डूबते को तिनके का सहारा

0

पानी में डूबती एक औरत चिल्ला रही थी।

बचाओ बचाओ मैं प्रेग्नेंट हूँ।

संता ने उसे बाहर निकाला और मुहं से मुहं मिलाकर उसको साँस देने लगा।

बंता उसकी पेंटी उतार कर उसकी चूत के अंदर फूँक मारने लगा।

संता : क्या कर रहा है कामीने ?

बंता : अरे, तू माँ की जान बचा, मैं बच्चे की जान बचाता हूँ।4

Share.

Comments are closed.